CBSE Chemistry question paper 2022 class 12 pdf

Chemistry question paper

CBSE Chemistry question paper 2022 class 12 pdf

Table of Contents

रसायन विज्ञान (सैद्धांतिक)
CHEMISTRY (Theory)


निर्धारित समय : 2 घण्टे
Time allowed : 2 hours

अधिकतम अंक : 35
Maximum Marks : 35

सामान्य निर्देश :

निम्नलिखित निर्देशों को ध्यान से पढ़ें और उनका सख़्ती से पालन करें ।

  • इस प्रश्न-पत्र में कुल 12 प्रश्न हैं। सभी प्रश्न अनिवार्य हैं ।
  • यह प्रश्न-पत्र तीन खंड़ों में विभाजित है – खंड क, ख एवं ग ।
  • खंड क – प्रश्न संख्या 1 से 3 तक अति लघु उत्तरीय प्रकार के प्रश्न हैं। प्रत्येक प्रश्न 2 अंक का है।
  • खंड ख – प्रश्न संख्या 4 से 11 तक लघु उत्तरीय प्रकार के प्रश्न हैं। प्रत्येक प्रश्न 3 अंक का है ।
  • खंड ग – प्रश्न संख्या 12 केस आधारित प्रश्न है। यह प्रश्न 5 अंक का है।
  • लॉग टेबल एवं कैल्क्युलेटर का प्रयोग वर्जित है।

खण्ड-क

1- दिए गए निर्देश के अनुसार निम्नलिखित यौगिकों को व्यवस्थित कीजिए: (कोई दो) 1 x 2 = 2
(i) जलीय विलयन में क्षारकीय सामर्थ्य के घटते क्रम में :
C2H5NH2, (C2H5)2 NH, (C2H5)3 N

(ii) जल में विलेयता के बढ़ते क्रम में :
(C2H5)2 NH, C2H5NH2, C6H5NH2

(iii) pKb मान के घटते क्रम में :
C6H5NH2, C2H5NH2, NH3

2- मोलर चालकता (^m) और सांद्रता के वर्गमूल (root C) के बीच आलेख में दो विद्युत अपघट्यों X और Y के लिए निम्नलिखित वक्र प्राप्त हुए :

Chemistry question paper

निम्नलिखित के उत्तर दीजिए :
(i) विद्युत अपघट्यों X और Y की प्रकृति की प्रागुक्ति कीजिए ।
(ii) विद्युत अपघट्यों X और Y की सांद्रता जब शून्य की ओर पहुँचने लगती है, तो ^m के बहिर्वेशन पर क्या होता है ?

3- टिल अभिक्रियाओं से आप क्या समझते हैं ? क्या एक जटिल अभिक्रिया के लिए हम कोटि एवं आण्विकता पता कर सकते हैं ?

खण्ड-ख

4 – (क) भौतिक-अधिशोषण और रासायनिक-अधिशोषण के बीच कोई तीन अंतर लिखिए ।

अथवा

(ख) प्रत्येक के लिए उपयुक्त उदाहरण देकर निम्नलिखित पदों को परिभाषित कीजिए :
(i) द्रवरागी सॉल
(ii) वृहदाण्विक कोलॉइड
(iii) स्कंदन

5 – (क) प्रत्येक केस के लिए एक उपयुक्त उदाहरण देते हुए निम्न अभिक्रियाओं को प्रदर्शित कीजिए:
(i) गैब्रिल थैलिमाइड संश्लेषण
(ii) कार्बिलएमीन अभिक्रिया
(iii) हॉफमान ब्रोमेमाइड निम्नीकरण अभिक्रिया

अथवा

(ख) निम्न अभिक्रियाओं में A, B तथा C की संरचना दीजिए :

Chemistry question paper

6 – एक कार्बनिक यौगिक ‘X’ जिसका अणुसूत्र CfH100 है 2,4-DNP व्युत्पन्न बनाता है, टॉलेन अभिकर्मक को अपचयित नहीं करता है लेकिन NaOH की उपस्थिति में I2 के साथ गर्म करने पर आयोडोफार्म परीक्षण देता है। यौगिक ‘X’ प्रबल ऑक्सीकरण पर एथेनॉइक तथा प्रोपेनॉइक अम्ल देता है। लिखिए :
(i) यौगिक ‘X’ की संरचना ।
(ii) 2, 4-DNP अभिकर्मक के साथ यौगिक ‘X’ की अभिक्रिया होने से प्राप्त उत्पाद की संरचना ।
(iii) यौगिक ‘X’ को NaOH की उपस्थिति में I, के साथ गर्म करने से प्राप्त उत्पादों की संरचनाएँ ।

(क) (i) क्रिस्टल फील्ड सिद्धांत के आधार पर यदि 40 < P हो तो d4 आयन के लिए इलेक्ट्रॉनिक विन्यास लिखिए ।

(ii) संयोजकता आबंध सिद्धांत का उपयोग करते हुए [Ni(CN)4]2- के संकरण एवं चुम्बकीय लक्षण की प्रागुक्ति कीजिए। (परमाणु क्रमांक: Ni = 28)

(iii) IUPAC नियमों के आधार पर निम्नलिखित संकुल का सूत्र लिखिए :

डाइक्लोरिडोबिस (एथेन-1,2-डाइऐमीन) कोबाल्ट (III)

अथवा

(ख) जब एक उपसहसंयोजक यौगिक NiCl2. 6H20 को AgNO3 के साथ मिलाया जाता है तो यौगिक के एक मोल के साथ AgCl के दो मोल अवक्षेपित होते हैं। लिखिए :
(i) संकुल का संरचना सत्र ।
(ii) संकुल में ‘Ni’ की द्वितीयक संयोजकता।
(iii) संकुल का IUPAC नाम ।

8 – (क) निम्नलिखित के लिए कारण दीजिए :
(i) Zr और Hf लगभग समान परमाणु त्रिज्याओं वाले हैं।
(ii) संक्रमण धातुएँ परिवर्तनीय ऑक्सीकरण अवस्थाएँ दर्शाती हैं।
(iii) ज़िंक की कणन एन्थैल्पी का मान सबसे कम होता है।

अथवा

(ख) संक्रमण धातुएँ तथा इनके अनेक यौगिक उत्तम उत्प्रेरक का कार्य क्यों करते हैं ? संक्रमण धातुओं की ऑक्सीकरण अवस्थाओं में परिवर्तनशीलता असंक्रमण धातुओं में ऑक्सीकरण अवस्थाओं में परिवर्तनशीलता से किस प्रकार भिन्न है ? उदाहरण देकर स्पष्ट कीजिए ।

9 – (a) निम्नलिखित सेल अभिक्रिया के लिए मानक गिब्ज़ ऊर्जा –300 kJ mol-1 है :06
Zn(s) + 2Ag+(aq) → Zn2+(aq) + 2Ag(s)
अभिक्रिया के लिए E का परिकलन कीजिए।
(दिया है : 1 F = 96500 mol-1)

(b) MgCl2 के लिए 20 का परिकलन कीजिए यदि Mg2+ आयन एवं Cl आयन के लिए ° के मान क्रमशः 106 S cm2mol-1 एवं 76.3 S cm2mol-1 हैं ।

10- 3d संक्रमण श्रेणी के निम्नलिखित आयन दिए गए हैं :
Ti2+, Fe2+, Cu2+, Zn2+
(परमाणु क्रमांक : Ti = 22, Fe = 26, Cu = 29, Zn = 30)

इनमें से उस आयन को पहचानिए जो
(i) जलीय विलयन में एक प्रबल अपचायक है
(ii) अपनी +1 ऑक्सीकरण अवस्था से अधिक स्थायी है
(iii) जलीय विलयन में रंगहीन है।
प्रत्येक के लिए उपयुक्त कारण दीजिए ।

11- एक प्रथम कोटि की अभिक्रिया के 50% पूर्ण होने में 40 मिनट लगते हैं। कितने समय में अभिक्रिया 90% पूर्ण होगी ?

[दिया है : log 2 = 0.3010, log 10 = 1]

खण्ड – ग

12- नीचे दिए गए अनुच्छेद को पढ़िए और नीचे दिए गए प्रश्नों के उत्तर दीजिए :

ऐल्डिहाइड, कीटोन एवं कार्बोक्सिलिक अम्ल, कार्बनिक यौगिकों के कुछ महत्त्वपूर्ण वर्ग हैं जिनमें कार्बोनिल समूह उपस्थित हैं। कार्बोनिल समूह में कार्बन की अपेक्षा ऑक्सीजन की विद्युत-ऋणात्मकता उच्च होने के कारण ये अत्यधिक ध्रुवीय अणु होते हैं । ऐल्डिहाइडों को प्राथमिक ऐल्कोहॉलों के विहाइड्रोजनन या नियंत्रित ऑक्सीकरण और ऐसिल हैलाइडों के नियंत्रित अपचयन द्वारा विरचित किया
जाता है । कीटोनों को द्वितीयक ऐल्कोहॉलों के ऑक्सीकरण और ऐल्काइनों के जलयोजन से विरचित किया जाता है।

ऐल्डिहाइड एवं कीटोन कार्बोनिल समूह पर नाभिकरागी योगज अभिक्रियाएँ देते हैं लेकिन कार्बोक्सिलिक अम्ल नाभिकरागी योगज अभिक्रियाएँ नहीं देते हैं । ऐल्डिहाइड एवं कीटोनों में उपस्थित x-हाइड्रोजन अम्लीय होते हैं। अतः कम से कम एक a.-हाइड्रोजन युक्त ऐल्डिहाइड एवं कीटोन ऐल्डोल संघनन देते हैं।

टॉलेन अभिकर्मक एवं फेलिंग विलयन के समान मृदु ऑक्सीकरण अभिकर्मक ऐल्डिहाइडों को आसानी से
ऑक्सीकृत कर देते हैं। कार्बोक्सिलिक अम्लों का विरचन प्राथमिक ऐल्कोहॉलों, ऐल्डिहाइडो के ऑक्सीकरण, नाइट्राइलों के जल-अपघटन के द्वारा किया जाता है। ऐरोमैटिक कार्बोक्सिलिक अम्लों को पार्श्व शृंखला वाले ऐल्किल बेन्ज़ीन के ऑक्सीकरण से विरचित किया जा सकता है। कार्बोक्सिलिक अम्ल ऐल्कोहॉलों एवं अधिकतर अतिसरल फ़ीनालों से काफी अधिक अम्लीय होते हैं।

(a) निम्न को नाभिकरागी योगज अभिक्रिया के प्रति उनकी अभिक्रियाशीलता के बढ़ते हुए क्रम में व्यवस्थित कीजिए :
CH3COCH3, CH3CHO, HCHO, C6H5COCH3
(b)एथेनैल एवं प्रोपेनोन के बीच विभेद करने के लिए एक सरल रासायनिक परीक्षण दीजिए ।
(c)ऐल्डिहाइडों एवं कीटोनों की तरह कार्बोक्सिलिक अम्ल नाभिकरागी योगज अभिक्रियाएँ क्यों नहींदेते हैं ?
(d) (i) ऐल्डिहाइडों एवं कीटोनों के ऐल्फा (a) हाइड्रोजन की अम्लीय प्रकृति क्यों होती है ?
(ii) निम्नलिखित में उत्पादों को लिखिए :

Chemistry question paper

अथवा

निम्नलिखित अभिक्रियाओं के मुख्य उत्पाद लिखिए :

Chemistry question paper

CBSE Chemistry question paper 2022 class 12 pdf

ये भी पढ़े …….

Leave a comment